Zindagi Sad Shayari

Zindagi Sad Shayari, Zindagi Sad Shayari Image, zindagi sad shayari 2 line, zindagi sad shayari 2 line english, zindagi shayari in hindi,
akeli zindagi shayari, sad shayari in hindi, life shayari, zindagi sad shayari urdu, zindagi sad shayari in english.

1} Zindagi Sad Shayari

Zindagi Sad Shayari

Zindagi Sad Shayari Lyrics
जिंदगी तो हमारी हो गई है सैड,
अब हम हो चुके हे मैड,
शादी तो हो गयी हे मेरी,
लेकिन नहीं बन पा रहा हु में डैड.


मुझे अब डर नहीं लगता,
किसी के दूर जाने से,
तालुक टूट जाने से,
किसी के मान जाने से,
किसी के जड़ जाने से,
मुझे अब डर नहीं लगता..
किसी को आजमने से
किसी के आजमने से
किसी को याद रखने से
किसी को भूल जाने से
मुझे अब डर नहीं लगता..
किसी को चोर देने से
किसी के चोर जाने से,

शम्मा को जलाने से
शम्मा को भुजाने से
मुझे अब डर नहीं लगता..
अकेले मुसकुराने से
कभी अनसु बहाने से
ना इस सारे जमाने से
हकीकत से फसाने से
मुझे अब डर नहीं लगता..
किसी की ना-रसाय से
किसी की पा-रसाय से
किसी की बेवफाई से
किसी दुख इंतेहायी से
मुझे अब डर नहीं लगता..
ना तो इस पार रहने से
ना तो उस पर रहने से
ना अपनी ज़िंदगानी से
ना इक दिन मौत आने से
मुझे अब डर नहीं लगता।


बिछड़ के तू ने मुझसे कभी,
ये भी सोचा हे
अधुरा चांद भी कितना उदास लगता है।
वही मुंतज़िर निगाहें वही शाम-ए-ग़म का आलम..
हम बहुत दिनों से देख रहे हैं तेरी वापसी की राहें…!


वफ़ा में अब ये हुनर एकतियार करना हे,
वो सच कहे ना कहे ऐतबार करना है..
ये तुझ को जागते रहने का शौक कब से हुआ,
मुजे तो खेर तेरा इंतजार करना हे।


ख़्वाब आँखों से गए,
नींद रातों से गई..
वो गए तो लगा,
जिंदगी हाथों से गई..

ये मोहब्बत के हदसे अक्सर,
दिलो को तोड़ देते हे
आप मंजिल की बात करते हो,
जो रहो में छोड देते वह।


तू भूला जिसे,
तुझको वो याद करता रहा,
तू जीता रहा तेरे लिए वो मरता रहा,
तेरे दर्द की आहट सुनी,
लो मैं आगया, सब छोड के तेरी राह में।


दिल जीत लेनेकी,
वो नज़र हम भी रखते हे,
भीड में भी आए नजर,
एसा असर हम भी रहते हैं,
यूं तो वादा किया है किसी से,
हर दम मस्कुराने का,
वरना एन आंखों में,
समुंदर हम भी रहते हैं।

चले जायेंगे तुझे तेरे हाल पर छोड़कर,
ऐ बेवफा सनम कदर क्या होती है,
यह तुझे वक़्त बताएगा.


तेरी आवाज़ सुनाने को,
तरसता हे मन मेरा,
तेरी एक झलक पाने को,
बेकरार हे मन मेरा,
अपनी जिंदगी का हर लम्हा,
तेरे साथ गुजरू
हर पल बस यही,
चाहता हे मन मेरा।


जब कोई अपना,
दसरो के करीब होने लगता है,
दूरियो का एहसास ज्यादा होता है.


आज कैसे वो सो गया,
हमसे महफिल-ए-गुफ्तागु किए बेगैर,
जो कहते थे,
तेरी बातो में निन्द से भी ज्यादा,
सुकुन मिलता हे.


सच्चे लोगो की तलाश अब छोड दी हे मेने,
लोग तो बस वक्त बिताने,
और दिल जलाने के लिए मिलते हैं.

मेरी ख़ुशी के लम्हे मुख़्तसर हैं इस क़दर,
की मेरे मुस्कुराने से पहले,
यह लम्हे गुज़र जाते हैं,


खामोशियाँ है,
खता मेरी तन्हाईयाँ है,
सज़ा मेरी समझा रही हैं,
ये दूरियां तेरी मेरी नज़दीकियाँ.


हल-इ-दिल तो खुल चूका इस शहर में,
हर शख्स पर.
हाँ मगर इस शहर में एक बेख़बर भी देखा हे.


हेरान हुन के,
मुद्दत-ए-कलील मैं मोहसिन।
वो इंसान मेरी सोच से ज्यादा बदल गया.


कल रात में सपनो में,
उसकी तस्वीर बना डाली,
इतनी अच्छी लगी की,
दिल में उतार डाली,
फिर खौफ हुआ कोई चुरा न ले उसे,
इतना रोये क उसे अपने आंसुओ से मिटा डाली.


खामोशियों में एक अदा इतनी प्यारी लगी,
आपकी दोस्ती हमें सबसे न्यारी लगी,
ना टूटे ये दोस्ती कभी,
यही दुवा है हमारी,
क्योंकि दुनिया में,
एक यही चीज़ हमें हमारी लगी.


भूल जाना उसे जो तुम्हे भुला दे,
मत देखना उसे जो तुम्हे रुला दे,
पर कभी न होना दूर उस शख्स से,
जो अपनी आंखे भिगोकर भी तुम्हे हँसा दे.


Mujhe ab darr nahin lagta,
kisi ke door jane se,
Taluq toot jane se,
Kisi ke maan jaane se,
Kisi ke rooth jaane se,
Mujhe ab Darr nahin lagta..
Kisi ko aazmane se
Kisi ke aazmane se
Kisi ko yaad rakhne se
Kisi ko bhool jaane se
Mujhe ab darr nahin lagta..
Kisi ko chorr dene se
Kisi ke chorr jaane se,


Shamma ko jalaane se
Shamma ko bhujaane se
Mujhe ab darr nahin lagta..
Akele muskuraane se
Kabhi ansuu bahaane se
Na iss saare zamaane se
Haqeeqat se fasaane se
Mujhe ab darr nahin lagta..
Kisi ki naa-rsaayi se
Kisi ki paa-rsaayi se
Kisi ki bewafaayi se
Kisi dukh intehaayi se
Mujhe ab darr nahin lagta..
Na to iss paar rehne se
Na to uss paar rehne se
Na apni zindgaani se
Na ik din maut aane se
Mujhe ab darr nahin lagta.


Bichad ke tu ne muz se kabhi,
yeh bhi socha he,
Adhoora chand bhi kitna udaas lagta he.

Wohi Muntazir Nighaien Wohi Sham-e-Gham Ka
Aalam..
Hum Azal Se Dekh Rahay Hain Teri Wapsi Ki
Raahaien…!


Wafa me ab ye hunar ektiyar karna he,
Woh sach kahe na kahe aitbaar karna hai..
Yeh tuz ko jagte rehne ka shauk kab se huva,
Muze to kher tera intizaar karna he.

Khawb aankhon se gaye neend raaton se gayi..
Woh gaye to laga zindagi haathon se gayi..


Ye mohabbat ke hadse aksar,
Dilo ko tod dete he,
Aap manzeel ki bat karte ho,
Log raaho me chod dete he.

Tu bhoola jise
Tujhko woh yaad karta raha
Tu jeeta raha
Tere liye woh marta raha
Tere dard ki aahat suni
Lo aa gaya, sab chhod ke
Teri raah me.

Dil Jeet Leneki,
Vo Nazar Hum Bhi Rakhte He,
Bhid Me Bhi Aaye Nazar,
Esa Asar Hum Bhi Rakhte He,
Yun To Vada Kiya Hai Kisi Se,
Har Dum Muskurane Ka,
Varna In Aankho Me,
Samundar Hum Bhi Rakhte He.

Chale Jaayenge Tujhe Tere
Haal Per Chorkar
Aey Sanam Kadar Kya Hoti hai Yeh
Tujhe Waqt Batayega.


Teri Avaaj Sunane Ko Tarsata He Man Mera,
Teri Ek Zalak Pane Ko,
Bekarar He Man Mera,
Apni Zindagi Ka Har Lamha Tere Sath Gujaru,
Har Pal Bas Yahi Chahta He Man Mera.

Jab koi Apna Dusro ke Kareeb hone lagta he,
To Dooriyo ka Ehsaas zyada hota he.


Aaj Kaise Wo So Gya Humse Mehfil-e- Guftagu Kiye Begair,
Jo Kahte The ‘Teri Bato Me nind Se Bhi Jyada sakun Milta He.

Sachhe Logo Ki Talash Ab Chod Di He Mene…..!!
Log Toh Bus Vakt Bitane Aur Dil Jalane Ke Liye
Milte He..


Meree khushi ke lamhe mukhtasar hai is qadar,
Ki mere muskurane se pahale,
Yeh lamhe guzar jaate hain,

Khamoshiyan hai khata meri
Tanhaiyan hai sazaa meri
Samjha rahi hain ye dooriyan
Teri meri nazdeekiyaan


Hal-e-dil to khul chuka is shahar me,
Har shakhs per..
Haan magar is shahar me ek bekhabar bhi
dekha he.

Heraan Hoon Kay Muddat-e-Qaleel Main
Mohsin..
Wo Shakhas Meri Souch Say Zayada Badal
Gaya..

kal rat me sapno me uski tasveer bana dali
itni achi lagi k dil me
utar daali
fir khouf hua koi chura na le use itna roye k use apne aansowo se mita daali.


Khamoshiyon mein ek ada itni pyari lagi
Apki dosti hum sabse nyari lagi
Ye na tute kabhi yahi duva he hamari
Kyonki duniya me ek yahi chiz hame hamari lagi.

2} Zindagi Sad Shayari in English

Bhul jaana use jo tumhe bhula de mat
dekhna use jo tumhe rula de par kabi na
hona door us shaks se jo apni ankhe
bhigokar bi tumhe hansa de.

Aaj rutha hua ek dost yad aya,
Accha gujzra hua kuch waqt yad aya,
Jo hamare dard ko cine me chupa leta tha,
Aaj jab dard huva to, Vo bahut yad aaya.

Sad Shayari Hindi Next Page –

1) True Love Shayari
2) Love Shayari
3) Dard Bhari Shayari
4) Shayari Diary
5) Romantic Shayari
6) English Shayari
7) Shayari Photo
8) Sad Shayari Photo
9) Funny Shayari
10) Dosti Shayari
11) Gulzar Shayari
12) Birthday Shayari
13) Attitude Shayari
14) Shayari in Hindi
15) Best Shayari
16) Shayari Love In Hindi
17) Romantic Love Shayari
18) Love Shayari In Hindi
19) Heart Touching Shayari
20) Love Shayari Hindi Status
21) Top 10 Love Shayari In Hindi
22) Sad Love Shayari
23) Love Shayari In English
24) Shayari Collection
27) Friendship Shayari
28) Sad Shayari

Share Zindagi Sad Shayari to Social Media.
You can also find us on Twitter, Facebook 2022.

Zindagi Sad Shayari
Share Your Love
Scroll to top
DMCA.com Protection Status